ऑपरेटिंग सिस्टम सर्विस क्या है, यह कितनी तरह की होती हैं ? | What is Operating system services in Hindi

ऑपरेटिंग सिस्टम का मुख्य उद्देश्य एक ऐसा वातावरण प्रदान करना होता है जिससे उपयोगकर्ता सिस्टम का आसानी से उपयोग कर सके और दूसरा उद्देश्य कंप्यूटर हार्डवेयर का क्वेश्चन तरीके से उपयोग करना होता है। कंप्यूटर सिस्टम को आसानी से उपयोग हो सकने वाला बनाने के लिए ऑपरेटिंग सिस्टम उपयोगकर्ता को कई सर्विसेस प्रदान करता है। 




Table Of Contents

ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है ?

What is operating system ?


ऑपरेटिंग सिस्टम के प्रकार

Types of operating system


ऑपरेटिंग सिस्टम हमें निम्नलिखित सर्विस प्रदान करता है,


1.यूजर और कंप्यूटर के बीच मध्यस्थता 

User and Computer Management


2. प्रोग्राम को बनाने में

Programing


3. प्रोग्राम के एग्जीक्यूशन में

Program execution


4.इनपुट/आउटपुट डिवाइस इसके उपयोग में

Input/Output device Operation


5. फाइल्स के नियंत्रित उपयोग में

File System Manipulation


6. बचाव और सुरक्षा

Security


7. संचार

Communication


8. त्रुटियों का पता लगाने और उनका जवाब देने में

Error Detection


9. रिसोर्स को प्रदान करने में

Resource Allocation


एकाउंटिंग

Accounting


ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है ?

What is operating system ?

"ऑपरेटिंग सिस्टम एक ऐसा प्रोग्राम है जो एप्लीकेशन के एग्जीक्यूशन को नियंत्रित करता है और कंप्यूटर हार्डवेयर एवं कंप्यूटर उपयोगकर्ता के बीच मध्यस्थ का कार्य करता है"

ज्यादा जानकारी के लिए नीचे दिए आर्टिकल को जरूर देखें

Operating system क्या है प्रकार सहित समझाइए 


ऑपरेटिंग सिस्टम के प्रकार

Types of operating system

1. सीरियल ऑपरेटिंग सिस्टम

  O शेड्यूलिंग 

  O सेटअप टाइम 

2. बैच ऑपरेटिंग सिस्टम 

3. मल्टीप्रोग्रामिंग ऑपरेटिंग सिस्टम

4. मल्टीटास्किंग टाइम शेयरिंग ऑपरेटिंग सिस्टम 

5. मल्टी प्रोसेसिंग ऑपरेटिंग सिस्टम 

  O सममित मल्टी प्रोसेसिंग

  O असममित मल्टी प्रोसेसिंग

6. डिस्ट्रीब्यूटेड सिस्टम

7. रियल टाइम ऑपरेटिंग सिस्टम

  O हार्ड रियल टाइम

  O सॉफ्ट रियल टाइम



ये ना लिखें:

(ज्यादा जानकारी के लिए नीचे दिए आर्टिकल को जरूर देखें)

Operating system क्या है प्रकार सहित समझाइए 


ऑपरेटिंग सिस्टम के विभिन्न सर्विस लिखिए

ऑपरेटिंग सिस्टम हमें निम्नलिखित सर्विस प्रदान करता है,


1.यूजर और कंप्यूटर के बीच मध्यस्थता 

User and Computer Management

ऑपरेटिंग सिस्टम स्वयं की कार्य करने की पद्धति को यूजर से छुपाता है तथा सिस्टम का उपयोग करने के लिए यूजर को एक आसान इंटरकोर्स प्रदान करता है। यह अपनी सुविधाओं के उपयोग के लिए मध्यस्थ की भूमिका निभाता है अलग-अलग प्रकार के ऑपरेटिंग सिस्टम अलग-अलग प्रकार के इंटरफ़ेस प्रदान करते हैं 



इंटरफ़ेस की कुछ Types निम्नलिखित है...

A) command line interface 

B) batch interface 

C) Graphical User Interface


A) command line interface (CLI)

इसमें text command तथा उनको रन करने की विधि का उपयोग किया जाता है।


B) batch interface 

इसमें Commands की फाइल बनाई जाती है तथा फिर इन फाइल्स को Execute किया जाता है,


C) Graphical User Interface (GUI)

इनमें सर्विसिस ग्राफिकल रूप में स्क्रीन पर दिखाई देती है और किसी Pointing Device जैसे माउस के उपयोग से सर्विस का चुनाव किया जाता है यूजर को कमांड याद रखने की आवश्यकता नहीं होती,


2. प्रोग्राम को बनाने में

Programing

ऑपरेटिंग सिस्टम कई प्रकार की सुविधाएं प्रदान करता है जैसे Editor. यह सुविधाएं यूजर को प्रोग्राम बनाने में सहायता प्रदान करती है। वास्तव में यह सर्विसेस ऑपरेटिंग सिस्टम का हिस्सा नहीं है परंतु इनका उपयोग ऑपरेटिंग सिस्टम के माध्यम से किया जाता है,


3. प्रोग्राम के execution में

Program execution

प्रोग्राम को एग्जीक्यूट करने के लिए कई कार्यों को करना आवश्यक होता है जैसे Instruction और डाटा को मेन मेमोरी में लोड किया जाता है, ऑपरेटिंग सिस्टम यूजर के लिए इन सभी कार्यों को करता है,


4. इनपुट/आउटपुट डिवाइस इसके उपयोग में

Input/Output device Operation

प्रत्येक इनपुट आउटपुट डिवाइस के कार्य करने के लिए अपने Instruction Set या Control Signal होते हैं, ऑपरेटिंग सिस्टम इन जटिलताओं को देखता है जिससे यूजर केवल साधारण इंडिया राइट कमांड के माध्यम से अपने कार्य को करता है,


5. फाइल्स के नियंत्रित उपयोग में 

File System Manipulation

फाइल्स को उपयोग करने के लिए स्टोरेज डिवाइस की प्रकृति तथा स्टोरेज मीडिया में फाइल फॉर्मेट की जानकारी होनी चाहिए ऑपरेटिंग सिस्टम इन सभी जटिलताओं को देखता है इसके अतिरिक्त यदि किसी सिस्टम में कई यूजर है तो OS फाइल के उपयोग को नियंत्रित करता है,


6. बचाव और सुरक्षा 

Security

पब्लिक सिस्टम में ऑपरेटिंग सिस्टम पूरे सिस्टम और इसके विशिष्ट विशेष के उपयोग को नियंत्रित करता है। ऑपरेटिंग सिस्टम की कार्यप्रणाली में सहयोग देने वाले सभी हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर जैसे मेमोरी इनपुट आउटपुट डिवाइस प्रोसेसर , CPU Time, एप्लीकेशन प्रोग्राम सिस्टम प्रोग्राम फाइल को स्टोर करने वाली जगह इत्यादि सिस्टम के रिसोर्ट कहलाते हैं,


7.संचार

Communication

ऑपरेटिंग सिस्टम में कोई भी कार्य प्रोसेस के रूप में होता है एक प्रोग्राम को एग्जीक्यूट होते समय प्रोसेस कहते हैं एग्जीक्यूशन के समय कई बार एक प्रोसेस को किसी अन्य प्रोसेस से जानकारी की जरूरत होती है OS प्रोसेस के बीच सूचनाओं के आदान-प्रदान की सुविधा प्रदान करता है,


8. त्रुटियों का पता लगाने और उनका जवाब देने में : 

Error Detection

जब एक कंप्यूटर सिस्टम रन होता है तो कई प्रकार की त्रुटियां आ सकती है इनमें आंतरिक और बाहरी हार्डवेयर त्रुटियां जैसे मेमोरी त्रुटि डिवाइस का फेल होना इत्यादि तथा सॉफ्टवेयर त्रुटियां जैसे 0 से भाग देना इत्यादि आती है इनमें से प्रत्येक स्थिति में ऑपरेटिंग सिस्टम अपना जवाब देता है तथा दूसरी एप्लीकेशन को कम से कम प्रभावित करके त्रुटि को दूर करने का प्रयास करता है 20 की स्थिति में ऑपरेटिंग सिस्टम त्रुटि वाले प्रोग्राम को खत्म कर सकता है या उस ऑपरेशन को पुनः कर सकता है,


9. रिसोर्स को प्रदान करने में

Resource Allocation

एक कंप्यूटर सिस्टम के कई रिसोर्स होते हैं जो किसी समस्या को हल करने में आवश्यक होते हैं ऑपरेटिंग सिस्टम इन रिसोर्स के मैनेजर की तरह कार्य करता है और आवश्यकता होने पर इन्हें प्रोग्राम और यूजर को देता है जो कि विशेष के लिए यह एक ही समय में एक से अधिक निवेदन हो सकते हैं इन स्थितियों में ऑपरेटिंग सिस्टम निर्णय लेता है कि कौन सा रिचार्ज कैसे दिया जाए जिससे कंप्यूटर सिस्टम कुशलतापूर्वक तथा बिना भेदभाव के काम कर सके,


10. एकाउंटिंग

Accounting

एक अच्छा ऑपरेटिंग सिस्टम विभिन्न रिसोर्स के उपयोग संबंधी जानकारी तथा कार्य क्षमता संबंधी पैरामीटर जैसे रिस्पांस टाइम इत्यादि की जानकारी इकट्ठा करता रहता है इसी जानकारी के आधार पर भविष्य में ऑपरेटिंग सिस्टम में सुधार किए जाते हैं और सिस्टर की कार्य क्षमता को बढ़ाया जाता है,





FAQ


ऑपरेटिंग सिस्टम का दूसरा नाम क्या होता है ?

ऑपरेटिंग सिस्टम का दूसरा नाम OS होता है जो इस का Short Name है,


Operating system की सर्विसेस कितनी तरह की होती है,

Operating system की सर्विसेस 10 से भी ज्यादा तरह की होती हैं,आज इस हम ऐसी ही 10 सर्विसेस की बात करने वाले हैं,

और नया पुराने